40.1 C
New Delhi
Thursday, May 23, 2024

कोतवाली पुलिस ने बचाई गौवंश की जान, वध करने में जुटे एक आरोपी को किया लंगड़ा

Must read

पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान गौकशी का एक आरोपी गिरफ्तार, फायरिंग करते हुए तीन आरोपी हुए फरार

वरुण जैन ब्यूरो रामपुर

गौवंशीय पशु भी सकुशल किया बरामद

स्वार. गौकशी की सूचना पर छापेमारी को पहुंची पुलिस टीम पर गौकाशी करने वालों ने फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस टीम ने जवाबी कार्रवाई कर एक आरोपी के पैर में गोली मारकर गिरा दिया। जबकि तीन अन्य आरोपी फायरिंग करते हुए फरार हो गए। पुलिस ने मौके से गौवंशीय पशु को सकुशल बरामद कर लिया है। वहीं पुलिस ने संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर फरार हुए आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

जबकि घायल आरोपी को गिरफ्त में लेकर उपचार के लिए स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया है।
बताते चलें की दो दिन पूर्व दिनों कोसी नदी के किनारे ग्राम धनौरी के पास एक गौवंशीय पशु का वध किए जाने की सूचना पर पुलिस की छापामार कार्रवाई के चलते आरोपी कटे हुए पशु को छोड़कर फरार हो गए थे।

जिसपर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की खोजबीन शुरू कर दी। सीओ अनुज चौधरी व कोतवाली प्रभारी कोमल सिंह ने सभी पुलिस टीमों को विशेष रूप से चेकिंग अभियान चलाने के सख्त निर्देश जारी कर दिए। इसके साथ ही कोतवाली प्रभारी कोमल सिंह भी लगातार पुलिस टीम के साथ क्षेत्र में नजर बनाए हुए थे। सोमवार को कोतवाली पुलिस इलाका देखरेख चैकिंग संदिग्ध वाहन/व्यक्ति, तलाश वांछित व गस्त में जुटे हुए थे।

तभी मुखबिर खास द्वारा सूचना मिली कि वाहद ग्राम फाजलपुर जंगल तिराहे पर कुछ व्यक्ति एक प्रतिबंधित पशु का वध करने के उद्देश्य से बांधे हुए हैं तथा उनके पास एक मोटर साइकिल भी खड़ी है। जिसपर उपनिरीक्षक राहुल यादव अपनी टीम के साथ ग्राम फाजलपुर तिराहे पर पहुंचे और गौकशी के प्रयास में जुटे आरोपियों की घेराबंदी कर दी। उपनिरीक्षक राहुल यादव ने गौकशी करने वालों से को खुद को पुलिस के हवाले करने की चेतावनी दी।

इसी दौरान अतिरिक्त पुलिस बल की सहायता हेतु फोन के माध्यम से कोतवाली में सूचना भेज दी। पुलिस सूत्रों के अनुसार खुद को घिरता देख गौकशी करने वालों ने पुलिस टीम फायरिंग शुरू कर दी। जिसपर पुलिस टीम द्वारा जबाबी फायरिंग की गयी। जिसमें एक अभियुक्त की दाहिनी टांग में गोली लग गई जिससे वह गिर गया है। जबकि अन्य तीन आरोपी अंधेरे का लाभ उठाते हुए फायरिंग करते हुए भाग निकले। मौके पर ही घायल अभियुक्त से पूछने पर उसने अपना नाम लईक पुत्र अहमद जान निवासी नई बस्ती मौहल्ला चक स्वार बताया।

जबकि फरार हुए तीन अन्य साथी लईक पुत्र रहीस निवासी स्वार खास, नावेद पुत्र सलीम नि0 अगलगा रोड रसूलपुर, इरफान उर्फ पताला पुत्र वाहिद निवासी रसूलपुर बताया है। पुलिस द्वारा पूछताछ में गिरफ्तार आरोपी ने बीते दो दिन पूर्व ग्राम धनौरी कोसी नदी के किनारे हुई गौकशी की घटना में संलिप्त होना बताया गया। पुलिस ने घायल अभियुक्त लईक को उपचार के लिए सीएचसी स्वार लाया गया। पुलिस ने संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज फरार आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।
कार्रवाई के दौरान पुलिस टीम ने प्रतिबंधित पशु सहित एक बाइक अवैध तमंचा, कारतूस व पशु काटने के उपकऱण बरामद किए हैं।कार्रवाई के दौरान उपनिरीक्षक राहुल यादव, मुकेश सिंह, हेड कांस्टेबल अनिल कुमार, नितिन कुमार कांस्टेबल अंकुल, अमित कुमार, धर्मेन्द्र सिंह शामिल रहे।

गौकशी करने वालों के खिलाफ कोतवाली पुलिस का ऑपरेशन लंगड़ा अभियान शुरू

स्वार. सोमवार देर रात कोतवाली पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान एक गौकशी कर रहे एक अभियुक्त को पैर में गोली मारकर गिरा दिया। जिसके बाद पुलिस अभिरक्षा में उपचार के लिए अस्पताल भेज दिया है। वहीं पुलिस ने मौके से फरार हुए तीन अन्य आरोपियों के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज कर खोजबीन शुरू कर दी है।

बताते हैं की जब से पहलवान सीओ अनुज चौधरी व कोतवाली प्रभारी कोमल सिंह ने स्वार क्षेत्र में कार्यभार संभाला है तब से गौकशी सहित अन्य अपराधों में संलिप्त आरोपियों के हौसले पस्त हो गए हैं। चर्चा है की अब पुलिस ने गौकशी करने वालों के खिलाफ ऑपरेशन लगड़ा अभियान शुरू कर दिया है। पुलिस की कार्रवाई से गौकशी करने वालों में हड़कंप मच गया है।

कोसी नदी में डूबे स्टोन क्रेशर कर्मचारी का शव दूसरे दिन हुआ बरामद

- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article